मंगलवार, सितंबर 27, 2011

१०० सेकण्ड और १०० दिन

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड केमरून ने भारत के खिलाड़ियों को उनके यहाँ होने वाले ओलम्पिक मैं भाग लेने हेतु र्हदय से आमंत्रित किया है.कमरून ने यह भी कहा है की भारतीय उद्योगपति भी आमंत्रित हैं.आपने अपने देश की तारीफ़ करते हुए कहा है की यहं उद्योग और निवेश की अपार सम्भावनाये हैं. ब्रिटेन मैं १०० सेकण्ड मैं एक कम्पनी जनम लेती है. हमारे भारत मैं १०० से. तो ठीक १०० दिन मैं उद्योग या निवेश करने का विचार तक नहीं आ सकता. हम ब्रिटेन से अभी भी १०० साल पीछे हैं. बाबा रामदेव,अन्ना ,२जी घोटाला आदि से सर्कार को फुर्सत ही नहीं .एक के बाद एक विषिस्टव्यक्ति कारावास मैं जा रहे हैं.देश का एक तिहाई हिस्सा भयंकर वर्षा से ग्रस्त है.सिक्किम मैं भूकंप है. उमरअब्दुल्ला मेहमान नवाजी मैं मस्त हैं.राहुलजी सिक्किम का हवाई दौरा कर सिक्किम वासियों का दर्द समझने की कोशिश कर रहें हैं.जब की फ़ौज के लोग कह रहें हैं की अति विषिस्ट और सुरक्षा प्राप्त विषिस्ट व्यक्तियों को सिक्किम नहीं आना चाहिए. उधर मोदीजी का उपवास समाप्त हुआ है.केमरू  न जी आप बेफिक्र रहें आपके यहाँ हमारे उद्योगपति निश्चित आयेंगे.

1 टिप्पणी:

Raviratlami ने कहा…

चलिए, अपनी याददाश्त में जोर लगाया और इसे ढूंढ ही निकाला.
आपको एक बार फिर से बधाई.
हिंदी में लिखने की फिर से शुरूआत करने के लिए.
लिखते रहिए, लिखते रहिए. अब रुकिएगा नहीं. रोज कुछ न कुछ अवश्य लिखें.